Guru Bhajan, Guruvar Hum Bhi Sharanagat Hai

guru bhajan

गुरुवर हम भी शरणागत हैं, स्वीकार करो तो जानें

अब हमें पतित से पावन, सरकार करो तो जाने

गुरुवर हम भी शरणागत हैं, स्वीकार करो तो जानें

प्रेमी जन तुम को ध्याते, तुम भक्ति भाव वश आते

हम कुटिल हृदय से कलुषित उपकार करो तो जानें

गुरुवर हम भी शरणागत हैं, स्वीकार करो तो जानें

ज्ञानी तुम मे तनमय है, ध्यानी भी तुम में लय है

हम अज्ञानी चंचल चित्त, निस्तार करो तो जानें

गुरुवर हम भी शरणागत हैं, स्वीकार करो तो जानें

क्या मुख से विनय सुनायें, हम कैसे तुम्हें मनायें

अगणित अपराध किये हैं, उद्धार करो तो जाने

गुरुवर हम भी शरणागत हैं, स्वीकार करो तो जानें

जीवन नैया जर्जर है, पल पल विनाश का भय है

ऐसे भी अधम पतित को भव पार करो तो जानें

गुरुवर हम भी शरणागत हैं, स्वीकार करो तो जानें

Anisha
Views: 12582



blog comments powered by Disqus